Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

कागज़ के पन्ने हिंदी कविता

Inspirational Hindi poetry kagaz ke panne कलम पर हिंदी कविता

inspirational hindi poetry kagaz ke panne कलम पर हिंदी कविता

inspirational hindi poetry kagaz ke panne कलम पर हिंदी कविता

कागज़ के पन्नों पे लिख देती हूँ चंद अल्फाज़

बस यही है मेरे जीने का अंदाज़

 

हर एक शख्स केदिल में छुपे हैं क्या राज़

बस यही बयाँ करते हैं ये अल्फाज़

 

दुनिया की हकीकतों का तसब्बुर होता है

जब कलम लिख देती है दिल की आवाज़

 

इस कलम का कोई अपना पराया नहीं

ये जानती है हर एक  दिल के जज्बात

 

किसी का दर्द देखा तो दुखी  हो गयी

और लिख दिया उसके दर्द  का राज़

 

और जब किसी को मुस्कुराते हुए देखा

तो लिख दिए उसके खामोश अल्फाज़

 

जब देखा किसी को उदास आस पास

तो लिख दी उसकी अनकही सी बात

 

कलम एक है और लिखने वाला भी वही है मगर

बड़ी खूबसूरती से बयाँ देती  है हर एक  के जज्बात

 

जब सुनाइ दी किसी के ख्वाव टूटने की आवाज़

तब समझा दिया उसे बड़े ही प्यार से

जब टूट जाते हैं सारे ख्वाव

तब दिखता है सब कुछ साफ़ साफ़

 

FOR VISIT MY YOU TUBE CHANNEL

CLICK HERE

 

Friends अगर आपको ये Post “inspirational hindi poetry kagaz ke panne कलम पर हिंदी कविता ” पसंद आई हो तो आप इसे Share कर सकते हैं.

कृपया Comment के माध्यम से हमें बतायें आपको ये पोस्ट ‘inspirational hindi poetry kagaz ke panne कलम पर हिंदी कविता ‘ कैसी लगी.

DoLafz की नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Sign Up करें

Comments

  1. Hi
    Sach kahaan apney magar lagta Haan ye pad h kar laga itna Kuch hota Haan aur hum kabhi sochtey bhi nahi Kisi ko Kya mahsoos ho Raha Hoga
    But this practically true

Speak Your Mind

*