Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

नजरिया बहुत बड़ी चीज़ होती है Point of view in Hindi

नजरिया बहुत बड़ी चीज़ होती है

Point of view in Hindi

नजरिया बहुत बड़ी चीज़ होती है Point of view in Hindi

नजरिया बहुत बड़ी चीज़ होती है Point of view in Hindi

Friends… ‘नजरिया’ ये एक ऐसा शब्द है जो हमारी जिन्दगी बदल सकता है। हमें ये समझना बहुत ही आवश्यक है कि ये शब्द कितना महत्वपूर्ण है। ‘नज़रिया’ ही होता है जिसकी वजह से हम जीवन के हर पल में ख़ुशी या गम महसूस करते हैं।

नजरिया बहुत बड़ी चीज़ होती है; ‘नजरिया’ देखने का,सोचने का, समझने का, एक ही बात को अगर कई तरीके से सोचा जाये तो कई सारे सवाल और कई सारे सवालों के जबाब मिल जाते हैं। शिकवे, शिकायत सब दूर हो जाते हैं और हम अच्छे इन्सान बनने पर मजबूर हो जाते हैं।

‘नजरिया’ बहुत हद तक हमारे ‘Belief System’ पर Depend करता है। हमने जो बचपन से सुना है जिस माहौल में हम बड़े हुए हैं, उसी नज़र से हम दुनिया को देखते हैं। कुछ लोगों में वक़्त के साथ समझ आ जाती है मगर कुछ लोगों का नजरिया वही रहता है।

जैसे, बचपन में हमने सुना होगा हमारे बड़े कहते थे… “आज सुबह से पता नहीं किसका मुंह देखा मेरा दिन बहुत बुरा निकला या अच्छा निकला”… ये सिर्फ एक ‘Belief System’ है। कई लोग इस पर विश्वास करते हैं कई लोग नहीं करते।वैसे सोचने वाली बात है कि क्या किसी का मुंह देखने से दिन अच्छा या बुरा हो सकता है ?

ये सिर्फ हमारे नजरिये पर है कि हम इस बात को कैसे समझते हैं। देखा जाये तो इसका सही मतलब है कि हमें सुबह- सुबह  अच्छा सोचना चाहिये। और किसी को देखने का मतलब किसी इन्सान से नहीं है, हमें हमारे विचारों को देखना है कि वो कैसे हैं अच्छे है तो दिन अच्छा जायेगा।

हर इन्सान के सोचने का तरीका अलग होता है। For Example; जैसे किसी ऑफिस में बॉस किसी बात को लेकर परेशान है और उसने दस लोगों को बुलाकर छोटी सी गलती पर बहुत सुनाया। जब उन दस लोगों में सबसे अलग- अलग बात करेंगे तो हमें पता चलेगा इस बात हर एक के ऊपर अलग-अलग  असर होगा। सबका ‘नजरिया’ अलग होगा।

उनमें से कुछ लोगों के ऊपर कोई असर नहीं होगा। कुछ लोगों के ऊपर कुछ घंटे, और कुछ लोगों का सारा दिन Mood ख़राब रहेगा। एक ही Situation में सबका नजरिया अलग होगा। जो लोग बॉस के ‘नजरिये’ से सोचेंगे कि शायद परेशान हैं, वो उस  बात को भूलकर अपना काम करेंगे। कुछ लोग सारा दिन परेशान रहेंगे कि बिना गलती के इतना सुनाया। ऐसे में हमारा ही ‘नजरिया’ ही तय करेगा कि हमें खुश रहना है या परेशान।

इसलिए Friends हमें हमारा नजरिया हमेशा Positive रखना चाहिए। अगर किसी पुराने Belief को पकड़ के रखा है तो उससे बाहर निकलना होगा। अपने नजरिये को बदलने से सारी दुनिया बदल सकती है।

हर इन्सान के अंदर अच्छाई और बुराई दोनों होती हैं, तो क्यों न हम अच्छाईयों पर Focus करें। लेकिन सबसे ज्यादा जरुरी है कि हम अपने ऊपर Focus करें। अपनी कमियों को दूर करें। अगर हमारा ध्यान खुद की तरफ होगा, तो दूसरों की कमियां नज़र नहीं आएँगी क्यूँ कि तब हमें पता होगा की कमियां तो हमारे अंदर भी हैं।

तो Friends… हर इन्सान जो भी करता है उसकी नजर में वो सही होता है। हमें सामने वाले के नजरिये से भी सोचना चाहिए, हो सकता है की वो अपनी जगह सही हो। इसलिए अगर हमें खुश रहना है। तो हमें अपना नजरिया बदलना होगा… देखने का, सोचने का और समझने का, क्योकि, जो हम देखते हैं, वही हम सोचते हैं और धीरे- धीरे वही हम समझने लगते है।

Friends अगर आपको ये  Article “नजरिया बहुत बड़ी चीज़ होती है Point of view in Hindi” पसंद आया हो तो आप इसे Share कर सकते हैं  

कृपया Comment के माध्यम से हमें बताएं आपको ये पोस्ट Point of view in Hindi कैसी लगी.

 

 

FOR VISIT MY YOUTUBE CHANNEL

CLICK HERE

 

ये भी जरुर पढ़ें:-

खुश रहने की  कला

Stop Thinking and do someting

शिक्षित होने का सही मतलब

 

DoLafz की नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Sign Up करें

Comments

  1. बहुत अच्छा लिखा है आपने. Keep the good work going.

  2. Really interesting to read this one, hope to get these kind of posts even more.
    Thanks for sharing,

Trackbacks

  1. […] करना क्यों ज़रूरी है नजरिया बहुत बड़ी  चीज़ होती है DoLafz की नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने […]

Speak Your Mind

*