Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

मैंने चाहा था चलना आसमानों पे हिंदी कविता Hindi Poetry for courage

मैंने चाहा था चलना आसमानों पे हिंदी कविता

Hindi Poetry for courage

मैंने चाहा था चलना आसमानों पे हिंदी कविता Hindi Poetry for courage

मैंने चाहा था चलना आसमानों पे हिंदी कविता Hindi Poetry for courage

मैंने चाहा था चलना आसमानों पे

मगर चाँद ने रास्ता रोक लिया,

मंज़िल के आने से पहले

रास्ते में मुझको टोक दिया,

 

 

बोला ये नहीं वो मंज़िल

जहां तुम पहुंच पाओ,

हुकूमत है यहां हमारी

जाओ तुम चली जाओ,

कदमों को बढ़ाती कैसे

जब हमराही ने मुँह मोड़ लिया,

 

जब तारों को देखा आसमानों पे,

हर बंधन को मैंने तोड़ दिया,

चल पड़ी सफर पे तारों को देखकर,

चाँद ने कहा फिर निकल पड़ी तुम

इस मुश्किल सी राह पर ,

मैंने थामा हाथ चाँद का

और हवाओं का रुख मोड़ दिया,

 

चाँद हैरान हुआ देखता रहा और बोला,

तुम्हारे होंसले ने मुझको झकझोर दिया

मैंने चाहा था चलना आसमानों पे

मगर चाँद ने रास्ता रोक लिया…

इस कविता का विडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें.

 

Friends अगर आपको ये Post “मैंने चाहा था चलना आसमानों पे हिंदी कविता Hindi Poetry for courage”  पसंद आई हो तो आप इसे Share कर सकते हैं.

कृपया Comment के माध्यम से हमें बताएं आपको ये Post कैसी लगी।

FOR VISIT MY YOU TUBE CHANNEL

CLICK HERE

 

DoLafz की नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Sign Up करें

Comments

  1. Dheeraj says:

    Hi
    Beautiful lines ihope this should be URS great words n emotion
    I usually don’t get time but I always wait for URS u
    Haven’t replied on my previous msg
    I am ur fan so I can get angry
    Stay blessed
    Keep surprising

  2. Dheeraj says:

    Hi
    U will always find ur way as u seems to be very strong cause of the words u choose which shows how strong ur

  3. प्रियंका जी आपकी हर पोस्ट खूबसूरत होती है.
    अल्फाज़ पसंद आए.

  4. Dheeraj says:

    Hi
    Why u only write thank u do write some extra
    Itni kanjoosi fans key liye

  5. priyanka talekar says:

    very nice lines n imagination toooo thnks for writing on variety of topics.

  6. Saket gupta says:

    It’s lovely I mean awesome.. greatt

Speak Your Mind

*