Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

सपने कैसे सच होते हैं How to dream comes true

सपने कैसे सच होते हैं Article on dream in Hindi

सपने कैसे सच होते हैं Article on dream in Hindi

सपने कैसे सच होते हैं Article on dream in Hindi

FRIENDS…मुझे और आपको हम सबको सपने देखना बहुत पसंद है और सपने देखना भी चाहिए. सपने हर इन्सान देखता है और उन्हें सच करना भी चाहता है।

सपने दो प्रकार के होते हैं: एक जो बंद आँखों से देखे जाते है, और एक जो खुली आँखों से देखे जाते हैं।

जो सपने बंद आँखों से देखे जाते हैं, उन पर हमारा कोई control नहीं होता क्योंकि, उन्हें हम सोच समझकर नहीं देखते उनकी सच होने की उम्मीद भी कम होती है।

एक सपने वो होते हैं जो हम खुली आखों से देखते हैं, उनमें हमारा mind हमारे साथ होता है।और जो सपने हम खुली आँखों से देखते हैं उन्हें सच करने की क़ाबलियत हमारे अन्दर होती है।

Friends…जो सपने हम खुली आँखों से देखते हैं, उन्हें सिर्फ सपने न रहने दें, उन्हें सच करने की कोशिश करें।आप सफल होंगें कि असफल इस बारे में न सोचें।

हर इन्सान के अन्दर ढेरों शक्तियां होती है, बस इन्सान को उन शक्तियों का एहसास नहीं होता। जिस दिन वह अपने अन्दर की शक्तियों को पहचान लेता है, उसे सफल होने से कोई रोक नहीं सकता।

श्री कृष्ण भगवान ने कहा है; “कर्म करो फल की इक्षा मत करो”. इस एक वाक्य की गहराई को अगर हर इन्सान ठीक तरह से समझ ले तो वह निश्चित रूप से सफल हो सकता है

Friends… जब आप बिना फल की इक्षा के कर्म करते हैं, तो आपके सफल होने की ज्यादा उम्मीद होती है क्योंकि, तब आपको सफल या असफल होने का भय नहीं होता। आप सिर्फ काम करते हैं। आपका पूरा Focus अपने काम पर होता है। आपके अन्दर Competition  की भावना नहीं होती।

आपके हर पल में जीवन होता है क्योंकि तब आप वह काम करने में ही खुश रहते हैं। अगर आप सफल न भी हुए तो, आप जो मेहनत करते हैं उससे आपको कुछ न कुछ सीखने को जरुर मिलता है। और भविष्य में उसका फल अवश्य  मिलता है।

जो भी कार्य हम करते हैं, उसमें हम सफल होंगे या असफल ये कोई नहीं जानता तो क्यों न खुश होकर काम किया जाये। ऐसा करने से हमारे अंदर कोई भी सवाल नहीं चलते जैसे कि क्या होगा सब मेरे बारे में क्या सोचेंगे

आप दिल से मेहनत करते हैं। जिसमें कोई भी Distraction नहीं होता। आप बहुत सारे Negative thought से बच जाते हैं।

हर इन्सान निश्चित ही सफल होने के लिए मेहनत करता है, पर उसके बारे में पहले से सोचने से क्या फायदा क्योंकि सिर्फ मेहनत करना हमारे हाथ में है।

जब आप दिल से मेहनत करते हैं। और असफलताओं को भी Accept करने की हिम्मत रखते हैं और अपनी असफलताओं से भी कुछ न कुछ सीख कर आगे बढ़ते रहते हैं तो,आपके सफल होने की सम्भावना सबसे ज्यादा होती है।

सफल होने के लिए सबसे ज्यादा जरुरी है,असफलता का भय दिल से निकाल देना। क्योंकि तब आप कोशिश करने से नहीं डरेंगें।

बड़े बड़े महान लोगों का जीवन देखा जाये तो, उन्होंने सिर्फ अपने काम पर Focus किया। और वो करते चले गए। और एक दिन उन्होंने जितना सोचा भी नहीं था, उससे ज्यादा वो सफल हुए।

इसलिए Friends… सपने जरुर देखें और खुली आखों से देखें। किसी ने कहा है जो इन्सान स्वयं अपनी मदद करता है, उसकी मदद भगवान भी करते हैं।

आपने जो भी सपने देखें हैं उन्हें सच करने के लिए पूरी मेहनत और ईमानदारी से जुट जायें और धेर्य जरुर रखें। आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता।

APJ अब्दुल कलाम ने कहा है;

”इससे पहले की सपने सच हों, आपको सपने देखने होंगे।”

जॉय पेज ने कहा है;

”सपने देखिये और खुद को अपनी कल्पना में वैसा दिखने की अनुमति दीजिये, जैसा आप बनना चाहते हैं।”

वाल्ट डिज़नी ने कहा है;

“हमारे सारे सपने सच हो सकते है, यदि हम उन्हें पूर्ण करने का साहस दिखाएं।”

 

Friends अगर आपको ये Post “सपने कैसे सच होते हैं Article on Dream in Hindi” पसंद आई हो तो आप इसे Share कर सकते हैं.

कृपया Comment के माध्यम से हमें बतायें आपको ये Post “Article on Dream in Hindi’ कैसी  लगी . 

 

FOR VISIT MY YOUTUBE CHANNEL

CLICK HERE

 

ये भी जरुर पढ़ें :-

Think about Solution

आत्मविश्वास ले जाता है सफलता की ओर

 क्षमा करना क्यों ज़रूरी है

DoLafz की नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Sign Up करें

Comments

  1. very impressive article….keep it up……

  2. Nice article

  3. Afzal shaikh says:

    I really like this article…. Jab koshisho k kadam thak jayenge….tab sapno k pankh hame manzil tak pahonchayenge….

  4. Wonderful.

Speak Your Mind

*