Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

डॉक्टर फ्रेडरिक की खोज़ Motivational Hindi Story

डॉक्टर फ्रेडरिक की खोज़

Motivational Hindi Story

डॉक्टर फ्रेडरिक की खोज़ Motivational Hindi Story

डॉक्टर फ्रेडरिक की खोज़ Motivational Hindi Story

डॉक्टर फ्रेडरिक बैंटिंग का 14 November 1891 कनाडा में हुआ।  वो एक Canadian medical scientist थे। बात उन  दिनों की है। जब वो नई- नई खोजों में लगे रहते थे। डॉक्टर फ्रेडरिक बैंटिंग कनाडा के फार्म हाउस में रहते थे। उनकी एक दोस्त थी, जिसका नाम जैनी था। जैनी उनकी सबसे अच्छी दोस्त थी।

धीरे-धीरे उनकी दोस्ती प्यार में बदल गई। फ्रेडरिक बहुत मेहनत करते थे। हमेशा नई- नई खोज़ों में लगे रहते थे। यह देखकर जैनी हमेशा उनसे कहती रहती थीं। मेरा मन कहता है कि एक दिन तुम बहुत बड़ी खोज़ करोगे जिसकी वजह से सारी दुनिया तुम्हे याद करेगी।

तब फ्रेडरिक जैनी से बोले-  “मैं आविष्कार करना चाहता हूँ…. जब तक तुम मेरे साथ हो… तब तक मुझे असफलता से भी डर नहीं लगता। मैं कोशिश करता रहूँगा।”

जैनी बोली मैं हमेशा तुम्हारे साथ रहूँगी।अगर मर भी गई तब भी तुम्हारा साथ नहीं छोडूंगी। धीरे- धीरे फ्रेडरिक व्यस्त होते चले। जैनी से मिलने का भी समय नहीं रहता। काफी दिन हो गये वो जैनी से नहीं मिले थे उन्हें कुछ बेचैनी सी महसूस हुई।

वो जैनी के घर गये, वहाँ जाकर उन्हें पता चला कि जैनी की मृत्यु हो गई, जिसका कारण था मधुमेह।

जैनी की मौत का फ्रेडरिक को बहुत बड़ा सदमा पहुंचा. वक्त ने उनके घाव भर दिये और फ्रेडरिक जैनी की मौत के सदमे से बाहर आये।

लेकिन, अब उन्होंने संकल्प कर लिया था कि जिस बीमारी की वजह से जैनी की इतनी कम उम्र में मृत्यु हो गयी, वो उस बीमारी का इलाज़ खोजकर ही रहेंगे. इसके बाद फ्रेडरिक रात-दिन उसी खोज़ में लग गए।

एक दिन ऐसा आया उनकी मेहनत रंग लाई और उन्होंने मधुमेह के इलाज़ के लिए इन्सुलिन की खोज़ कर ली।

आज लाखों मधुमेह के रोगियों का इस इन्सुलिन से इलाज़ हो पा रहा है। इस इन्सुलिन की वजह सिर्फ इसलिए जिन्दा रह पा रहे हैं क्योंकि फ्रेडरिक ने जैनी के प्रेम को जिन्दा रखने के लिए इस इन्सुलिन की खोज़ की थी।

 

 

FOR VISIT MY YOU TUBE CHANNEL

CLICK HERE

 

 

Friends अगर आपको ये Post “डॉक्टर फ्रेडरिक की खोज़ Motivational Hindi Story” पसंद आई हो तो आप इसे Share कर सकते है।

कृपया Comment के माध्यम से हमें बतायें कि आपको ये पोस्ट “डॉक्टर फ्रेडरिक की खोज़ Motivational Hindi Story”  कैसी लगी

DoLafz की नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Sign Up करें

Comments

  1. thanks for sharing such a motivational story insulin ki khoj or love dono ko achhe se samjhaya gaya h isme kuch naya janne ko mila jiske liye thankS

Speak Your Mind

*