Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

गुरु पर हिंदी कविता Inspirational Hindi Poetry on Teacher

गुरु पर हिंदी कविता

Inspirational Hindi Poetry on Teacher

गुरु पर हिंदी कविता Inspirational Hindi Poetry on Teacher

गुरु पर हिंदी कविता Inspirational Hindi Poetry on Teacher

Friends… गुरु का हमारे जीवन में बड़ा महत्व है, कहते हैं गुरु के बिना ज्ञान नहीं। हमारी पहली गुरु हमारी माँ होती है। जिन्दगी में हम हर कदम पर सीखते हैं मेरी नज़र में गुरु कोई एक इन्सान नहीं, बल्कि इस जिन्दगी में हमें जिससे भी सीखने को मिलता है वो हमारा गुरु है। एक छोटा सा  Incident भी हमें बहुत कुछ सिखा देता है।

सही मायनों में गुरु को Define करना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। फिर भी मैं कोशिश कर रही हूँ।

मेरी नज़र में जिन्दगी में हर वो इन्सान गुरु है, जो जिन्दगी को जीना सिखा दे। वो हमें हमारी खुबियों का एहसास दिला दे। हमें आइना दिखा दे। कमियों को भी ऐसे बता दे कि खुद व खुद उन्हें सुधारने का दिल करे। हमें हर हाल में मुस्कुराना सिखा दे।

गुरुपूर्णिमा पर एक छोटी सी कविता…

 

गुरु के बिना ज्ञान नहीं
ज्ञान के बिना कोई महान नहीं
भटक जाता है जब इंसान
तब गुरु ही देता है ज्ञान

ईश्वर के बाद अगर कोई है
तो वो गुरू है
दुनिया से वाकिफ जो कराता है
वो गुरु है
हमें अच्छा इंसान जो बनाता है
वो गुरु है
बिना गुरु के जिंदगी आसान नहीं

हमारी कमियों को जो बताता है
वो गुरु है
हमें इंसानियत जो सिखाता है
वो गुरु है
हमें जो हीरे की तरह तराश दे
वो गुरु है
हमारे अंदर एक विश्वास जगा दे
वो गुरु है
जिसके पास नहीं है गुरु
समझ लेना कि वो धनवान नहीं

इस कविता का विडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें 

 

गुरु पूर्णिमा की हार्दिक शुभकामनाएं दोस्तों

Friends अगर आपको ये Post “गुरु पर हिंदी कविता Inspirational Hindi Poetry on Teacher” पसंद आई हो तो आप इसे Share कर सकते हैं.

कृपया Comment के माध्यम से हमें बताएं आपको ये पोस्ट कैसी लगी.

 

FOR VISIT MY YOUTUBE CHANNEL

CLICK HERE

 

ये भी जरुर पढ़ें:-

माँ हिंदी कविता

नारी का सम्मान

आखिर क्यों नहीं चाहते लोग बेटी

 

 

 

DoLafz की नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Sign Up करें

Comments

  1. गुरु की महानता का पार न पाया जाये,
    गुरु के ज्ञान का एहसान न चुकाया जाए।
    गुरु के गुणों का पार न पाया जाए,
    गुरु के चरणों में शीश को झुकाया जाए ।।

    हे मेरे परम गुरु मेरा नमन आपको बारम्बार । जय मेरे भोले नाथ।।

  2. I think everything composed was very reasonable. However, what about
    this? suppose you typed a catchier post title?
    I ain’t saying your information isn’t good., however suppose you added
    something that makes people want more? I mean गुरु पूर्णिमा की हार्दिक शुभकामनाएं
    Hindi Poetry is a little plain. You ought to look at Yahoo’s home
    page and see how they create post headlines to get
    viewers interested. You might try adding a video or a related pic or two to grab readers interested about everything’ve
    got to say. In my opinion, it would make your posts a little livelier.

  3. Sonu sonwani says:

    Exclent kavita

  4. Outstanding poem Very good

  5. This is fabulous poem

  6. excellent more the excellent

  7. Who has written this poem which is very beautiful

Speak Your Mind

*