Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

भगत सिंह के अनमोल विचार Bhagat Singh Quotes in Hindi

भगत सिंह के अनमोल विचार

Bhagat Singh Quotes in Hindi

भगत सिंह के अनमोल विचार Bhagat Singh Quotes in Hindi

भगत सिंह के अनमोल विचार Bhagat Singh Quotes in Hindi

1 : 

आम तौर पर लोग चीजें जैसी होती हैं उसके आदि हो जाते हैं और बदलाव के विचार  मात्र से ही कांपने लगते हैं। हमें इसी निष्क्रियता की भावना को क्रांतिकारी भावना से बदलने की आवश्यकता है।

भगत सिंह

2 : 

यदि बहरों को सुनाना है तो आवाज को बहुत जोरदार होना चाहिए, जब हमने बम गिराया तो हमारा धेय्य किसी को मारना नही था। हमने अंग्रेजी हुकूमत पर बम गिराया था। अंग्रेजों  को भारत छोड़ना होगा  और उसे आजाद करना होगा।

भगत सिंह

3 :

 प्रेमी, पागल, और कवि  एक ही पदार्थ  से बने होते हैं।

भगत सिंह

4 :

जो भी व्यक्ति भी विकास के लिए खड़ा है उसे हर एक रूढ़िवादी चीज की आलोचना करनी होगी , रूढ़िवाद पर  अविश्वास करना होगा तथा उसे चुनौती देनी होगी।

भगत सिंह

5 :

मैं इस बात पर ज़ोर देता हूँ कि मैं महत्त्वाकांक्षाआशा और जीवन के प्रति आकर्षण से भरा हुआ हूँ। पर मैं ज़रुरत पड़ने पर ये सब त्यागने  के लिए

   तैयार  हूँऔर वही सच्चा बलिदान है

भगत सिंह

6 :

क़ानून की पवित्रता तभी तक बनी रह सकती है जब तक कि  वो लोगों की इच्छा की अभिव्यक्ति करने में समर्थ है ।

भगत सिंह

7 :

निष्ठुर आलोचना और स्वतंत्र विचार ये क्रांतिकारी सोच के दो आवश्यक गुण होते  हैं।

भगत सिंह

8 :

देशभक्तों को अक्सर लोग पागल कहते हैं

भगत सिंह

9 :

व्यक्तियो को कुचल कर , वो  विचारों को नहीं मार सकते।

भगत सिंह

10 :

मेरा धर्म देश की सेवा करना है

भगत सिंह

11 :

क्रांति मानव जाति का एक अपरिहार्य अधिकार है। स्वतंत्रता सभी का अनश्वर अधिकार है। श्रम समाज का वास्तविक निर्वाहक है।

भगत सिंह

12 :

सूर्य विश्व      भर में हर  देश पर उज्ज्वल हो कर गुजरता है परन्तु उस समय ऐसा कोई देश नहीं होगा जो भारत देश के समान इतना स्वतंत्रइतना खुशहालइतना प्यारा हो।

भगत सिंह

13 :

अहिंसा को आत्म-बल के सिद्धांत का समर्थन प्राप्त है जिसमे अंतत: प्रतिद्वंदी पर जीत की आशा में कष्ट सहा जाता है . लेकिन तब क्या हो जब ये प्रयास अपना लक्ष्य प्राप्त करने में असफल हो जाएं ? तभी हमें आत्म -बल को शारीरिक बल से जोड़ने की ज़रुरत पड़ती है ताकि हम अत्याचारी और क्रूर दुश्मन की दया पर निर्भर न करें।

भगत सिंह

14 :

ज़िन्दगी तो अपने दम पर ही जी जा सकती है, दूसरो के कन्धों पर तो सिर्फ जनाजे उठाये जाते हैं।

भगत सिंह

15: 

यह एक काल्पनिक आदर्श है कि आप किसी भी कीमत पर अपने बल का प्रयोग नहीं करें नया आन्दोलन जो हमारे देश में आरम्भ हुआ है,उसकी  शुरुवात में  ही  हम चेतावनी दे चुकेहैं वह गुरुगोविंद सिंह और शिवाजीमहाराजकमल पाशा और राजा खानवाशिंगटन और गैरीबाल्डीलाफयेत्टे और लेनिन के आदर्शों से प्रेरित है।

भगत सिंह

16 :

मैं एक मानव हूँ और जो कुछ भी मानवता को प्रभावित करता है उससे मुझे मतलब है।

भगत सिंह

17 :

हमारे दल को नेताओं की आवश्यकता नहीं है । अगर आप दुनियादार हैंबाल-बच्चों और गृहस्थी में फंसे हैतो हमारे मार्ग पर मत आइए । आप हमारे उद्‌देश्य में सहानुभूति रखते हैं तो अन्य    तरीकों से हमें सहायता दीजिए । नियंत्रण में रह सकने वाले कार्यकर्ता ही इस आदोलन को आगे ले जा सकते हैं।

भगत सिंह

18 :

मेरा जीवन एक महान लक्ष्य के प्रति समर्पित है वह है देश की आज़ादी। दुनिया की अन्य कोई आकर्षित वस्तु मुझे लुभा नहीं सकती।

भगत सिंह

19 :

लिख रहा हूँ मैं अंजाम जिसका कल आगाज़ आएगा… मेरे लहू का हर एक कतरा इंकलाब लाएगा।

भगत सिंह

20 :

दिल से निकलेगी न मरकर भी वतन की उल्फतमेरी मिट्ठी से भी खूशबू-ए-वतन आएगी।

भगत सिंह

21 :

सर्वगत भाईचारा तभी हासिल हो सकता है जब समानताएं हों – सामाजिकराजनैतिक एवं व्यक्तिगत समानताएं।

भगत सिंह

22 :

सीने पर जो ज़ख्म हैसब फूलों के गुच्छे हैंहमें पागल ही रहने दोहम पागल ही अच्छे हैं।

भगत सिंह

23 :

राख का हर कण मेरी गर्मी से गतिमान है, मैं एक ऐसा पागल जो जेल में भी आज़ाद है।

भगत सिंह

 

अंत में

Friends अगर आपको ये Post  ” भगत सिंह के अनमोल विचार Bhagat Singh Quotes in Hindi ”  पसंद आई हो तो आप इसे Share कर सकते हैं.

कृपया Comment के माध्यम से हमें बताएं आपको ये पोस्ट ” भगत सिंह के अनमोल विचार Bhagat Singh Quotes in Hindi ”  कैसी लगी.

 

FOR VISIT MY YOUTUBE CHANNEL

CLICK HERE

 

 

DoLafz की नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Sign Up करें

Speak Your Mind

*