Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

ओशो के अनमोल वचन Best Osho motivational quotes in Hindi

ओशो के अनमोल वचन

Best Osho motivational quotes in Hindi

ओशो के अनमोल वचन Best Osho motivational quotes in Hindi

ओशो के अनमोल वचन Best Osho motivational quotes in Hindi

हमारे देश में कई ऐसे आध्यात्मक गुरु हुए हैं जिन्होंने अपने अनमोल वचनों से क़दम क़दम पर लोगों को प्रेरित किया ।

उन्हीं में से एक आध्यात्मक गुरु आचार्य रजनीश जिन्हें हम ओशो के नाम से भी जानते हैं।

ओशो न सिर्फ़ भारत में बल्कि विदेशों में भी प्रसिद्ध हैं।

उनके बेबाक़ प्रवचन भक्तों को इतना अधिक प्रभावित करते थे कि देश विदेश में उनके करोड़ों शिष्य हैं ।

आज भी उनका साहित्य देश विदेशों में लोग पढ़ते हैं और उनके विडीओ देखकर जीवन जीने की प्रेरणा लेते हैं।

उनकी कही हुई बातें आज भी वास्तविकता के प्रमाण पर खरी उतरती हैं।  

आज उनके कुछ अनमोल वचन मैं आपके साथ Share करने जा रही हूँ।

 

 

1 : जितनी ज़्यादा ग़लतियां हो सकें आप उतनी ज़्यादा ग़लतियां करो । लेकिन एक बात याद रखना कि एक ही ग़लती दुबारा न हो।

और तुम देखोगे कि, तुम प्रगति कर रहे हो ।

 

2 : कैद के अलावा कोई और दुःख नहीं है।

 

3 : प्रेम एक आध्यात्मिक घटना है और वासना भौतिक। अहंकार मनोवैज्ञानिक है, जबकि प्रेम आध्यात्मिक है।

 

4 : अपने मन के अंदर जाओ, अपने मन का विश्लेषण करो. कहीं न कहीं तुमने खुद को धोखा दिया है।

 

5 : किसी के साथ किसी भी प्रतियोगिता की कोई ज़रूरत नहीं है। तुम जैसे भी  हो अच्छे हो।

अपने आप को स्वीकार करना सीखो।

 

6 : जब तुम्हें कुछ हानिकारक करना हो तभी ताकत की जरूरत पड़ेगी । वरना तो प्रेम पर्याप्त है। करुणा पर्याप्त है।

 

7 : प्यार की सर्वश्रेष्ट सीमा आज़ादी होती है, पूरी आज़ादी। किसी भी रिश्ते के खत्म होने का मुख्य कारण आज़ादी का न होना ही होता है।”

 

8 : प्यार सच्चा तभी  होता है जब कोई भी  एक दुसरे के व्यक्तिगत मामलो में दखल ना दे।

प्यार में दोनों को एक-दुसरे का सम्मान करना चाहिये ।

 

9 : सत्य  बाहरी नही है जिसे खोजा जाना है, ये कुछ अंदरूनी है जिसका एहसास किया जाना चाहिए।

 

10 : जब  आप बिना प्रेम के काम करते हैं तो आप एक गुलाम की तरह काम कर रहे होते हैं।

जब आप प्रेम के साथ काम करते हैं,

तब आप एक राजा की तरह काम कर रहे होते हैं. आपका काम आपकी ख़ुशी है।

 

 

11: आप अपने बाहरी रूप को बदलते हुए कई जिंदगियां लगा देंगे फिर भी कभी संतुष्ट नहीं हो पायेंगे,

जब तक कि भीतर बदलाव नहीं होगा, बाहरी बदलाव से आप कभी संतुष्ट नहीं होंगे।

 

11 : जैसे-जैसे आप अपने हर पल में  अधिक से अधिक  जागरुक होते जाते हैं इच्छाएं गायब होती जाती हैं।

जब जागरूकता 100% हो जाती है, तब कोई इच्छा नहीं रहती।

 

12 : खुद को खोजने का प्रयास कीजिए , नहीं तो आपको दुसरे लोगों के राय पर निर्भर रहना पड़ेगा जो खुद को भी नहीं जानते।

 

13 : कभी आप  ये मत पूछो कि , ” मेरा सच्चा दोस्त कौन है?” पूछो, “क्या मैं किसी का सच्चा दोस्त हूँ?” ये सही प्रश्न है।

 

14 : जब कभी  मैं कहता हूँ कि आप देवी-देवता हैं तो मेरा मतलब  हमेशा ये होता है कि आप के अंदर  अनंत संभावनाएं है ,

आपकी क्षमताएं अनंत हैं ।

 

15 : अगर  आप एक दर्पण बन सकते हैं तो आप एक ध्यानी भी  बन सकते हैं. ध्यान दर्पण में देखने की कला का नाम  है।

और जब  आपके अन्दर कोई विचार नहीं चलता तब  कोई व्याकुलता नहीं होती।

 

16 : यदि  आप सच को देखना चाहते हैं तो ना सहमती और ना असहमति में अपनी राय रखिये।

 

17 : प्यार जब सहज, अचानक, बिना अभ्यास किया हुआ, असंस्कृत, और बिना सोचे समझे होता है तभी वह सच्चा कहलाता है।

 

18 : सिर्फ़ और सिर्फ़ आपके अलावा कोई आपकी परिस्थिति के लिए जिम्मेदार नहीं है. कोई आपको गुस्सा नहीं दिला सकता

और कोई आपको खुश भी नहीं कर सकता।

 

19 : प्रश्न ये नहीं होना चाहिए कि  क्या मृत्यु के बाद भी जिंदगी रहेंगी. प्रश्न तो ये होना चाहिए

 कि क्या आपने  मृत्यु से पहले जिंदगी को जिया है।

 

20 : प्यार एक पक्षी की तरह होता है जिसे आज़ाद रहना पसंद है. जिसे बढ़ने के लिए पूरे आकाश की जरूरत होती है।

 

21 : जब भी आप प्यार की कोई  योजना बनाते हो और जब भी आपका ध्यान पूरी तरह से उसमें शामिल हो जाता है

तब ये झूठा  और पाखंडी हो  जाता है।

 

 

22 : दोस्ती ही सबसे शुद्ध और  निर्मल प्यार है. प्यार करने का ये सबसे ऊँचा स्तर है जहां,

सिर्फ और सिर्फ एक दूसरे को खुशी दी जाती है।

 

23 : बुद्धि कभी भी एक सीमा में रहने से नहीं बढ़ सकती, बुद्धि तो प्रयोग करने  से बढ़ती है।

बुद्धि हमेशा चुनौतियों को अपनाने से ही बढ़ती है।

 

24 : हमेशा सावधान रहिए . अपने अंतःकरण में झांकिए , आप पाएँगे  की आप नकारात्मक विचारो से जुड़े हो।

और ये नकारात्मक विचार कोई और नहीं  आपका अहंकार  है।

 

25 : वह इंसान जो अकेले रहकर भी खुश है असल में वही इंसान कहलाने योग्य है. यदि आपकी ख़ुशी दूसरों पर निर्भर करती है

तो आप एक गुलाम हो. अभी आप पूरी तरह से मुक्त नहीं हुए हो अभी आप बंधन  में बंधे हो।

 

26 : वह इंसान जो भरोसा करता है वह जिंदगी में आराम करता है। और वह इंसान जो भरोसा नहीं करता वह परेशान, डरा हुआ और कमजोर होता  है।

 

27 : यदि आप खुद अपने साथ का आनंद नहीं लेते हो। तो कोई और आपके साथ आनंदित कैसे हो सकता है ?

 

28 : असली सवाल यह है की भीतर से तुम क्या हो ? अगर भीतर तुम  गलत हो, तो तुम जो भी करोगे, उससे गलत ही  फलित होगा।

अगर तुम भीतर सही हो, तो तुम जो भी करोगे, वह सही फलित होगा।

 

29 : मैं तो दो  शब्दों पर ही  जोर देता हूं- प्रेम और ध्यान। क्योंकि मेरे लिए अस्तित्व के मंदिर के दो ही विराट दरवाजे हैं।

एक का नाम प्रेम, एक का नाम ध्यान। चाहो तो प्रेम से प्रवेश कर जाओ, चाहो तो ध्यान से प्रवेश कर जाओ।

शर्त एक ही हैः अहंकार दोनों में छोड़ना होता है।

 

30: इस संसार में मित्रता शुद्धतम् प्रेम है, मित्रता प्रेम का सर्वोच्च रूप है जहां कुछ भी मांगा नहीं जाता,

कोई शर्त नहीं होती, जहां बस दिया जाता है।

 

31 : जिन्दगी में आप जो करना चाहते है, वो ही कीजिये, ये मत सोचिये कि लोग क्या कहेंगे।

क्योंकि लोग तो तब भी कुछ कहते है, जब आप कुछ नहीं करते।

 

32 : कोई आदमी चाहे लाखों करोड़ों  चीजें जान ले। चाहे वह पूरे जगत को भी  जान ले।

लेकिन अगर वह स्वयं को नहीं जानता है तो वह अज्ञानी है।

 

33 : जो व्यक्ति भीतर सत्य को अनुभव कर सकता  है, उसका सारा जीवन सौदर्य से, शांति से और संगीत से भर जाता है।

उसका सारा जीवन उन प्रतिध्वनियों को, उन तरंगों को प्रवाहित करने लगता है,

जो सारे जगत के लिए शांति की और शीतलता की छाया बन सकती है।

 

34 : जीवन हमेशा  आज और अभी होता  है । उसे कभी अतीत या भविष्य में देखने प्रयास न करे।

जो जीवन को अतीत या भविष्य में देखने का प्रयास करता है वह परेशान रहता है।

हमेशा ध्यान रखें कि जो सामने है वही सच है । इसके बाद जो कुछ भी है वह सिर्फ संभावना है ।

 

35 : प्रेम हमेशा तब खुश होता है जब वो कुछ दे पाता है। अहंकार हमेशा  तब खुश होता है जब वो कुछ ले रहा होता  है ।

 

ये भी जरुर पढ़ें:-

सरदार बल्लभ भाई पटेल के अनमोल वचन 

लाल बहादुर शास्त्री के अनमोल वचन 

गौतम बुद्ध के अनमोल वचन 

सुकरात के अनमोल वचन 

भीमराव अम्बेडकर के अनमोल वचन 

बिल गेट्स के अनमोल विचार 

कल्पना पर अनमोल वचन 

कला पर अनमोल वचन 

क्षमा पर अनमोल वचन 

ख़ुशी पर अनमोल वचन 

सुंदर पिचाई के अनमोल वचन 

 

 

Friends अगर आपको ये Post ”     ”  पसंद आई हो तो आप इसे Share कर सकते हैं.

कृपया Comment के माध्यम से हमें बताएं आपको ये Post कैसी लगी।

FOR VISIT MY YOUTUBE CHANNEL

CLICK HERE

 

ऐसे ही कई अनमोल वचन सुनने के लिए हमारे चैनल Dolafz

को ज़रूर Subscribe करें।

शिक्षाप्रद कहानियाँ सुनने के लिए हमारे चैनल ज्ञानमृत को ज़रूर Subscribe करें।

 

 

DoLafz की नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Sign Up करें

Speak Your Mind

*