Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

अमिताभ बच्चन का जीवन परिचय Amitabh Bacchan Biography in Hindi

अमिताभ बच्चन का जीवन परिचय

Amitabh Bacchan Biography in Hindi

अमिताभ बच्चन का जीवन परिचय Amitabh Bacchan Biography in Hindi

अमिताभ बच्चन का जीवन परिचय Amitabh Bacchan Biography in Hindi

Success story and Hindi quotes of Amitabh bachchan

आज मैं हमारे सदी के महानायक के बारे में लिखने जा रही हूँ।

उनकी पहचान के लिए उनका नाम ही काफी है जैसा कि आपको केवल शीर्षक पढ़कर ही समझ आ गया होगा। उन्हें बिग बी के नाम से भी जाना जाता है।

सारी फिल्म इंडस्ट्री में एक अमिताभ बच्चन ही ऐसे अभिनेता हैं, जिन्हें इंडस्ट्री का महानायक माना जाता है।

कहा जाता है कि फिल्म इंडस्ट्री में सफलता कभी स्थिर नहीं रहती, पर बच्चन जी एक ऐसे अभिनेता बन चुके हैं जिनकी सफलता स्थिर है। आज भी उनकी ऐक्टिंग में उतनी ही ताजगी है, जितनी की उनके अपने ज़माने में हुआ करती थी।

अमिताभ बच्चन जी का पूरा नाम अमिताभ हरिवंश श्रीवास्तव है। बच्चन जी का जन्म 11 अक्टूबर 1942 को इलाहबाद [ उत्तर प्रदेश ], भारत में हुआ। उनके पिता हरिवंसराय बच्चन और माता का नाम तेजी बच्चन है, और उनके छोटे भाई का नाम अजिताभ बच्चन है।

उनका विवाह जय भादुड़ी से हुआ जोकि एक फिल्म एक्ट्रेस हैं। उनकी दो संतान हैं। एक अभिषेक बच्चन और एक श्वेता बच्चन। अभिषेक बच्चन का विवाह ऐश्वर्या राय से हुआ जो की एक मशहूर फिल्म अभिनेत्री हैं।

Amitabh Bacchan Biography in Hindi

जो जितना सफल है उसने उतनी ही कठिनाईयों का सामना किया है, और इतने बड़े मुकाम पर पहुँचने के लिए उन्होंने भी बहुत संघर्ष किया है.

उनके जीवन में भी कई उतार चढ़ाव आए। आज उनके चेहरे पर हम एक मुस्कान देख सकते हैं.  मगर  इस मुस्कान के पीछे उनकी कड़ी मेहनत और आत्मविश्वास छिपा है।

उनके जीवन में कई बार ऐसे मोड़ आये, जब वो टूट बिखर सकते थे। लेकिन ऐक्टिंग के प्रति उनका समर्पण, मेहनत और उनके आत्मविश्वास ने उन्हें कभी टूटने नहीं दिया।

बच्चन जी ने अपने केरियर की शुरुआत 1969 से की थी। उनकी पहली फिल्म का नाम ‘सात हिन्दुस्तानी’ था। इस फिल्म ने कोई विशेष वित्तीय सफलता प्राप्त नही की, पर उन्हें इस फिल्म के लिए Best newcomer का  पुरस्कार मिला.

इसके बाद उन्होंने फिल्म ‘आनंद’ में काम किया, जिसमें उन्होंने एक डॉक्टर का किरदार निभाया. इस फिल्म में उन्हें पहली बार राजेश खन्ना जी के साथ काम करने का मौका मिला। यह फिल्म बहुत प्रचलित हुई। इस फिल्म के लिए उन्हें सर्वश्रेष्ठ सहायक कलाकार का पुरस्कार मिला।

केरियर के शुरुआती दिनों में उन्होंने काफी मुश्किलों का सामना किया, उनकी  फ़िल्में लगातार फ्लॉप हो रही थी, एक Time था, जब उन्होंने घर वापस जाने का मन बना लिया था, लेकिन तभी उनकी एक फिल्म जंजीर आई और वही फिल्म उनके केरियर का टर्निंग पॉइंट साबित हुई।

 उन्हें असली पहचान फिल्म ‘ज़ंजीर’ से मिली। फिल्मो में अमिताभ जी के द्वारा बोले गये आज भी  Dialogue बहुत मशहूर हैं।

अपने केरियर के दौरान उन्हें कई पुरस्कार मिले सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के तौर  पर तीन रास्ट्रीय फिल्म के पुरस्कार  मिले। वे 14 फिल्म्फेयर पुरस्कार जीत चुके है। भारत सरकार की तरफ से उन्हें 1984 में पद्म श्री,  2001 में पदमभूषण ओर 2015 में पद्म विभूषण जैसे  सम्मान मिल चुके हैं।

इन सबके अतिरिक्त अमिताभ बच्चन लोगो की मदद के लिए  हमेशा तैयार रहते हैं। कर्ज में डूबे आन्ध्र प्रदेश के किसानों की उन्होंने  11 लाख रूपये देकर मदद की। ऐसे ही विदर्भ किसानों  की भी उन्होंने 30 लाख रुपये की मदद की।

इसके आलावा भी ऐसे कई मौके आये जब अमिताभ की दरियादिली देखने को मिली। और उन्होंने लोगों की मदद की। उनके ऊपर कई किताबें लिखी जा चुकी हैं।

क्या आप जानते हैं ?

अमिताभ बच्चन जी शुद्ध शाकाहारी हैं। 2012 में पेटा इंडिया द्वारा उन्हें “होटेस्ट वेजिटेरियन” का करार दिया गया।

वे अपने प्रशंसकों को कभी निराश नहीं करते। Social Media के द्वारा वह आज भी अपने लाखों करोड़ों प्रशंसकों से जुड़े रहते हैं।

सुनील दत्त ने उन्हें अपनी पहली फिल्म रेशमा और शेरा में इसलिए Sign किया था। क्यों कि क्योंकि PM इंदिरा गाँधी ने नर्गिस जी को एक letter भेजा था।

संघर्ष के दिनों में अमिताभ बच्चन ने कुछ रातें मरीन ड्राइव की एक बेंच पर काटीं।

आज सारी दुनिया जिस आवाज़ की दीवानी है, उस आवाज़ को All India रेडियो में दो बार रिजेक्शन को भी सहना पड़ा।

उनकी पहली हिट फिल्म से पहले लगभग  उनकी 12 फिल्में फ्लाप हुयीं।

अमिताभ कहते हैं- एक भी हिन्दी फिल्म हीरोइन वहिदा रहमान से ज्यादा खुबसूरत नहीं है।

फिल्मों में आने से पहले वह एक इंजिनियर बनना चाहते थे।

अमिताभ बच्चन के अनमोल वचन

Quotes of Amitabh Bachchan & Amitabh Bacchan Biography in Hindi

Success story and Hindi quotes of Amitabh bachchan

Success story and Hindi quotes of Amitabh bachchan

1: मैं किसी तकनीक का प्रयोग नहीं करता, मैं अभिनय करने के लिए प्रशिक्षित नहीं किया गया।

2: मैं कभी एक सुपरस्टार नहीं रहा और कभी इसमें यकीन नहीं किया।

3: मुझे कभी- कभी इस तथ्य से दुःख होता है कि मेरे पास एक पूर्ण और निरोग शरीर नहीं है।

4: सच कहूँ तो मैं कभी आइकन, सुपरस्टार इत्यादि विश्लेषणों में नहीं पड़ा मैं हमेशा खुद को एक अभिनेता के रूप में देखता हूँ, जो अपनी क़ाबलियत के अनुसार जितना कर सकता है कर रहा है।

5: ऐसी बहुत सी चीज़ें हैं, जो मुझे लगता है, मैंने मिस कर दी है।

6: हर किसी को ये स्वीकार करना चाहिए कि हमारी उम्र बढ़ेगी और उम्र का बढ़ना हमेशा प्रशंसापूर्ण नहीं होता।

7: हमारी कहानियों के स्वरूप की वजह से भारतीय अभिनेता को अच्छा अभिनय आना जरुरी है और उन्हें भावनात्मक दृश्यों, थोड़ी कामेडी, नाचना गाना, थोड़ा एक्शन आना चाहिए। क्योंकि ये सब एक ही फिल्म का हिस्सा होते हैं। मैं कहूँगा कई मायनों में होलिबुड अभिनेताओं की अपेक्षा भारतीय अभिनेताओं से अधिक अपेक्षा होती है।

8: प्रिय टीवी मीडिया और मेरे घर के बाहर खड़ी वेन्स, कृपया इतना तनाव मत लीजिये और इतनी कड़ी मेहनत मत कीजिये।

9: यह एक रणक्षेत्र है मेरा शरीर जिसने बहुत कुछ सहा है।

10: असल में मैं एक अभिनेता हूँ, जिसे अपने काम से प्यार है उम्र के बारे में ये सब बातें केवल मीडिया में पनपती हैं

 

 

Friends अगर आपको ये Post ” अमिताभ बच्चन का जीवन परिचय Amitabh Bacchan Biography in Hindi ” पसंद आई हो तो आप इसे Share कर सकते हैं.

कृपया Comment के माध्यम से हमें बताएं आपको ये पोस्ट ” अमिताभ बच्चन का जीवन परिचय Amitabh Bacchan Biography in Hindi ” कैसी लगी।

 

 

FOR VISIT MY YOUTUBE CHANNEL

CLICK HERE

 

DoLafz की नयी पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Sign Up करें

Speak Your Mind

*